Select City:
Browse by Title
Browse by Author
Browse by Category
   CATEGORY
Maut ka Ghar
Category : Children Fiction,Detective Nobel,Hindi books,Indian Authors
Author (S) : Satyajit Ray
Book Number : 12648
Availability :   1
      I Need This

Book Summary

 एक मूल्यवान पांडुलिपि की तलाश फ़ेलूदा और उनके दोस्तों को अजीबोग़रीब पात्रों तक ले जाती है। फ़ेलूदा के सामने पेश आए अब तक के तमाम मामलों में सबसे ज्यादा रोमांचकारी भी शायद यही है। दरअसल पांडुलिपियों के संग्रहकर्ता डी. जी. सेन, उनके बेटे महिम, निशीथ, वन्य जीवन फ़ोटोग्राफर विलास मजूमदार तथा ज्योतिषी लक्ष्मण भट्टाचार्य में से एक हत्यारा है, उसे तुरन्त रोकना होगा, देर होने से पहले... क्या फ़ेलूदा उसे पकड़ पाएगा, पढि़ए, सत्यजित राय का यह दिलचस्प और हैरतअंगेज़ उपन्यास। सत्यजित राय (1921-1992) अपने समय के महान् फिल्म निर्माताओं में से एक रहे। उन्हें एकेडमी आॅफ़ मोशन पिक्चर्स आट्र्स एंड सांइस द्वारा 1992 में लाइफ़ टाइम एचीवमेंट के लिए आॅस्कर पुरस्कार प्रदान किया गया। इसी वर्ष उन्हें भारत-रत्न से भी सम्मानित किया गया। राय की ख्याति प्रतिष्ठित लेखक के रूप में भी रही है तथा बंगला में लिखी उनकी कहानियां, उपन्यास, कविताएं और लेख काफ़ी चर्चित हुए। 1961 में बच्चों की पत्रिका ‘सन्देश’ में पहली बार प्रकाशित होने के बाद वह बेहद लोकप्रिय हो गए। उनके रचे पात्रों में जासूस फ़ेलूदा और वैज्ञानिक प्रोफ़ेसर शंकु काफ़ी प्रसिद्ध हुए हैं।

 
Login

Not a member?: Register Now
Forgot Password? : Click here
   
 
  new arrivals

Privacy policy | Terms and conditions © Copyright 2014 Booksmyfriends.net., All Rights Reserved.
Designed by Colourmoon (P) LTD